Saturday, November 28, 2020
Home Regional दिल्ली आने-जाने वाली ट्रेनों की खत्म होगी लेटलतीफी, फ्रेट कॉरिडोर का ये...

दिल्ली आने-जाने वाली ट्रेनों की खत्म होगी लेटलतीफी, फ्रेट कॉरिडोर का ये हिस्सा पूरा होते ही…

दिल्ली आने-जाने वाली ट्रेनों की खत्म होगी लेटलतीफी, फ्रेट कॉरिडोर का ये हिस्सा पूरा होते ही...

Dedicated Freight Corridor बनने से माल ढुलाई भी काफी तेज हो जाएगी

टुंडला:

दिल्ली आने-जाने वाले ट्रेनों की लेटलतीफी की बड़ी वजह जल्द दूर होने वाली है. यह सौगात रेलयात्रियों को देश की महत्वपूर्ण ट्रेन परियोजना डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (Eastern Dedicated Freight Corridor) का 341 किमी का एक हिस्सा पूरा होने से मिलेगी. इससे मालगाड़ियों की आवाजाही पूरी तरह से कॉरिडोर पर चली जाएगी. उम्मीद है कि खुर्जा से कानपुर के बीच फ्रेट कॉरिडोर के इस हिस्से पर 30 नवंबर से मालगाड़ियां दौड़ने लगेंगी. रेल ट्रैक के इस बिजी रूट पर कॉरिडोर चालू होने से यात्री ट्रेनों की आवाजाही काफी हद तक समय पर होने लगेगी और माल ढुलाई में कम वक्त लगेगा.

यह भी पढ़ें- ऐसे चलेगी दिल्ली-मेरठ के बीच ‘रैपिड रेल’, करीब चार घंटे का सफर एक घंटे में होगा पूरा..VIDEO

ये अत्याधुनिक ट्रेन कॉरिडोर 80 हजार करोड़ की लागत से बन रहा है. भारतीय रेलवे का ये ड्रीम प्रोजेक्ट ईस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर है. खुर्जा से लेकर कानपुर तक फ्रेट कॉरिडोर पर मालगाड़ी (Goods Train) को चलाने की हरी झंडी लगभग मिल चुकी है. इस ट्रैक की मजबूती का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस पर डबल डेकर मालगाड़ी से लेकर सवा किमी लंबी ट्रेन भी चल सकती है. डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (Dedicated Freight Corridor) पर पटरियों के अलावा ऐसे स्टेशन भी बनाए गए हैं, जहां पर यात्री टिकटों की नहीं, बल्कि व्यापारियों के सामान की बुकिंग होगी. ईस्टर्न और वेस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर के बनने पर 13 हजार टन रोज माल ढुलाई करने का इरादा है.

यह भी पढ़ें- दिल्ली-मेरठ RRTS कॉरिडोर के लिए सरकार-ADB के बीच 50 करोड़ डॉलर का हुआ लोन करार

Newsbeep

डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (DFC) के जीएम ऑपरेशंस वेद प्रकाश ने कहा कि 40 फीसदी काम हम इस साल पूरा कर लेंगे. कॉरिडोर पर खुर्जा से कानपुर तक ट्रेन चलाएंगे, क्योंकि ये काफी व्यस्त रेल मार्ग रहता है. फिलहाल उससे राहत मिल जाएगी. डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के ट्रैक पर लंबी मालगाड़ियां पूरी रफ्तार से चलाई जाएंगी. इसी के चलते आबादी वाली जगहों पर इस तरह की दीवारें बना दी गई हैं. मिताली गांव के बाहर इस तरह की कंपनरोधी और ध्वनिरोधी दीवारें भी बनाई गई हैं ताकि गांव के लोगों को दिक्कत न हो.

दिल्ली से कोलकाता की दूरी महज 18 घंटे में तय होगी


डीएफसी के सीएमडी (CMD) आरएन सिंह ने कहा कि मालगाड़ियां जब कॉरिडोर पर आ जाएंगी तो यात्री ट्रेनें सब उधर चली जाएंगी. जब कॉरिडोर सोन नगर तक खुल जाएगा तो पटना जाने में दो घंटे कम हो जाएंगे.ईस्टर्न और वेस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर बनने में पहले ही तीन साल की देरी हो चुकी है. इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से दिल्ली से कोलकाता की दूरी महज 18 से 20 घंटे में पूरी की जा सकेगी, जो फिलहाल 48 से 56 घंटे में पूरी होती है.


 

Read More

- Advertisment -

Most Popular

Chinese advisor calls Joe Biden weak, says a Democratic President could start wars

Last Updated: 23rd November, 2020 13:34 IST A Chinese government advisor recently said that the US President-elect Joe Biden is certainly a “very weak” President and he could start a war with China. Amid the increasing tensions between Beijing and Washington, a Chinese government advisor recently said that the US President-elect Joe Biden is certainly…

Is The Monk Who Sold His Ferrari based on a true story? All about the book

Last Updated: 23rd November, 2020 13:32 IST Is Netflix's 'The Monk Who Sold His Ferrari' based on a true story? Read on to know all about the self-help book written by author Robin Sharma. The Monk Who Sold His Ferrari is a self-help book written by author Robin Sharma. The book is an inspirational story…

Azerbaijans President Ilham Aliyev meets Russias Shoigu, comments on NKH cease-fire

Last Updated: 22nd November, 2020 13:09 IST Azerbaijan's President Ilham Aliyev on Saturday met with Russian defence officials, where he said he hoped that the ceasefire which ended a six-week war with Armenia will lead to improving relations between the two nations. Azerbaijan's President Ilham Aliyev on Saturday met with Russian defence officials, where he…

Hackers from Russia, China, Iran trying to steal COVID-19 vaccine data: Report

Last Updated: 23rd November, 2020 07:01 IST Global cybersecurity experts have accused Russia, China, Iran, and North Korea of engaging in "intellectual property war" by trying to COVID vaccine data. Global cybersecurity experts have accused Russia, China, Iran, and North Korea of engaging in "intellectual property war" by trying to steal data related to COVID-19…

Recent Comments