Saturday, October 24, 2020
Home Regional प्रदूषण फैलाने पर दिल्ली सरकार ने उत्तरी नगर निगम पर लगाया एक...

प्रदूषण फैलाने पर दिल्ली सरकार ने उत्तरी नगर निगम पर लगाया एक करोड़ का जुर्माना

प्रदूषण फैलाने पर दिल्ली सरकार ने उत्तरी नगर निगम पर लगाया एक करोड़ का जुर्माना

दिल्ली के किरारी इलाक़े में रोक के बावजूद धड़ल्ले से कूड़ा जलाया जा रहा है.

नई दिल्ली:

दिल्ली में ठंड की शुरुआत भी नहीं हुई है कि राजधानी में प्रदूषण ने अपने पैर पसार लिए हैं. यही वजह है कि दिल्ली सरकार ने खुले में कूड़ा जलाने के लिए बीजेपी शासित उत्तरी दिल्ली नगर निगम पर एक करोड़ का जुर्माना लगाया है. पर सवाल ये है कि उल्लंघन करने वाले क्या वाकई ये जुर्माना भरेंगे? दिल्ली के किरारी इलाक़े में रोक के बावजूद धड़ल्ले से कूड़ा जलाया जा रहा है. यह इलाका बीजेपी शासित उत्तरी दिल्ली के अंतर्गत आता है. आप आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के जरिए निगम पर एक करोड़ का जुर्माना लगाने का आदेश दिया है.

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा का कहना है कि ”ये एक करोड़ भी कम जुर्माना है. ये आपराधिक काम किया है. हम ये वसूलेंगे चाहे हमें एकाउंट क्यों न अटैच करना पड़े.” कड़ा संदेश देने के लिए हर हाल में एक करोड़ रुपये का जुर्माना वसूल करने की बात कर रही दिल्ली सरकार पर उत्तरी नगर निगम ने उल्टा ही आरोप लगा दिया है. निगम ने कहा है कि उसे बदनाम करने के लिए आम आदमी पार्टी के ही लोगों ने कूड़े में आग लगाई और फिर फंसाने के लिए शिकायत कर दी. उत्तरी नगर निगम के मेयर जय प्रकाश ने कहा कि ”हमने उनके खिलाफ़ FIR की है. आप का विधायक हमें बदनाम कर रहा है.”

यानी अब पुलिस कचहरी के चक्कर लगेंगे, राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप होंगे, पर ये जुर्माना वसूला नहीं जा पाएगा. अगर इस एक करोड़ को जोड़ लें तो इस साल अब तक एक करोड़ 20 लाख का जुर्माना लग चुका है. 

वहीं दूसरी तरफ़ पंजाब के कई इलाकों में जमकर पराली जलाई जा रही है. मोहाली और अमृतसर में पराली जलाई जा रही है. यही वजह है कि दिल्ली में सिर्फ़ 24 घंटों में प्रदूषण में पराली का योगदान 6% से बढ़कर 19% हो गया है.

सवाल यही है कि हर साल प्रदूषण नियंत्रण पर काम करने वाली एजेंसियां करोड़ों का चालान काटती हैं लेकिन उल्लंघन करने वाले जुर्माना देने के बजाय कोर्ट पहुंच जाते हैं और फिर ये मामले सालों चलते हैं. जुर्माना लगाने और FIR करने के तमाम आदेश सिर्फ़ अख़बार और टीवी चैनलों की सुर्ख़ियों में ही सिमट कर रह जाते हैं.

Read More

- Advertisment -

Most Popular

टीवी एक्ट्रेस सुरभि चंदना ने नवरात्रि पर शेयर किया साड़ी लुक, वायरल हुईं Photos

सुरभि चंदना (Surbhi Chandna) की फोटो हुई वायरलनई दिल्ली: टेलीविजन जगत की पॉपुलर एक्ट्रेस सुरभि चंदना (Surbhi Chandna) इन सोशल मीडिया पर खासी एक्टिव हैं. एक्ट्रेस अपनी तस्वीरें और वीडियो के जरिए इंटरनेट पर छाई हुई हैं. सुरभि चंदना (Surbhi Chandna) इन दिनों  नागिन 5 (Naagin 5) में नजर आ रही हैं. शो में उनके…

नए संसद भवन में हर सांसद के लिए होगा डिजिटल सुविधाओं से लैस अलग ऑफिस : लोकसभा सचिवालय

नई दिल्ली: नए संसद भवन का निर्माण अक्टूबर 2022 तक हो पूरा हो जाएगा और दिसंबर 2020 में इसके निर्माण की शुरुआत होगी. शुक्रवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला द्वारा समीक्षा बैठक किए जाने के बाद लोकसभा सचिवालय ने यह बात कही. लोकसभा सचिवालय के अनुसार नए संसद भवन में प्रत्येक सांसद के लिए नवीनतम डिजिटल सुविधाओं से…

नियुक्तियों में गड़बड़ी करने वालों की एक मात्र जगह जेल : सीएम योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो).लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में नौकरी का एकमात्र मानक मेरिट है,पूरी शुचिता और पारदर्शिता के साथ योग्य उम्मीदवार को ही नौकरी मिलेगी. बावजूद इसके नियुक्तियों में भ्रष्टाचार हुआ तो दोषियों को जेल में ही ठिकाना मिलेगा. मुख्यमंत्री आदित्यनाथ शुक्रवार को यहां…

सीबीआई ने बांबे हाईकोर्ट में दी सफाई, सुशांत मामले में कोई जानकारी लीक नहीं की

सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर बांबे हाईकोर्ट में दायर की गई हैं जनहित याचिकाएं (फाइल फोटो)मुंबई: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput Case ) की मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई (CBI) ने बांबे हाईकोर्ट में अपनी सफाई दी है. जांच एजेंसी ने शुक्रवार को कोर्ट को बताया कि उसने मामले से जुड़ी कोई…

Recent Comments